Red Purple Black

प्रधानमंत्री ने सांसदों को दिया दो महीने का 'होमवर्क

 

नई दिल्ली (सुनील पाण्डेय): प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने संसद का सत्र खत्म होने के बाद अगले दो महीने तक सांसदों को क्या करना है, इसका पूरा होमवर्क दे दिया है। संसद का सत्र 12 अप्रैल को खत्म हो रहा है। इसके बाद अप्रैल में उन्हें डा. भीमराव अंबेडकर की जयंती के लिए कसरत करनी होगी। इसके बाद मई महीने में मोदी सरकार के 3 साल पूरा होने को लेकर सरकार की उपलब्धियों को लेकर जनता के बीच जाना है। यह काम छुट्टियों का अगला महीना भी समेट लेगा। इसको लेकर सरकार और संगठन ने कसरत शुरू कर दी है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इसको लेकर करीब 11 राज्यों के भारतीय जनता पार्टी के सांसदों को ब्रेकफास्ट पर बुलाया। इसमें राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली के भी सभी सातों सांसद आज चाय पर पहुंचे। इसके अलावा हरियाणा, पंजाब, चंडीगढ़, हिमाचल, उत्तराखंड, बिहार, पश्चिम बंगाल, झारखंड, उड़ीसा, आसाम आदि राज्यों के सभी सांसद मौजूद रहे। प्रधानमंत्री निवास पर हुई इस बैठक में पहले सांसदों को चाय पिलाई गई, फिर उन्हें सरकारी एजेंडें से रूबरू करवाया गया।
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की वर्तमान राजनीति में आये दूरगामी परिवर्तन को मद्देनजर रखकर भाजपा सांसदों का समाज जीवन के भिन्न भिन्न जनसमूहों के साथ संपर्क माध्यम से जुडऩे का मार्गदर्शन दिया। साथ ही गरीब और वंचित परिवारों के साथ लगाव बनाने के साथ-साथ अपने कार्यक्षेत्र में केंद्र सरकार की कई कल्याणकारी योजनाओं और लाभार्थी समुदायों तक उन्हें कैसे पहुंचायें इसका भी दिशा निर्देश दिया।  प्रधानमंत्री ने कहा कि वर्तमान सांसदों के पास सोशल मीडिया टेक्नोलॉजी के माध्यम से मोबाइल कम्युनिकेशन का सर्वोत्तम माध्यम है। इसका जनप्रतिनिधि अपने कायक्षेत्र में अति व्यापक स्तर पर जन संपर्क कर सकते हैं।
इस मौके पर बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह भी मौजूद रहे। अमित शाह ने आगामी 6 अप्रैल को भाजपा स्थापना दिवस से 14 अप्रैल-डॉ अंबेडकर जयंती तक भाजपा सांसदों का देशभर में जनसंपर्क अभियान की भूमिका बताई। अमित शाह ने कहा कि पांच राज्यों के चुनाव के नतीजों से यह बात साफहै कि देश की राजनीति में प्रधानमंत्री मोदी ने गरीब लक्षीय राजनीति से, कई सालों से चली आ रही राजकीय विकृतियां के माहौल को पराजित कर दिया है। मोदी जी प्रेरित भारत सरकार की विभिन्न गरीब, गांव, किसान एवं युवाओं और महिलाओं  के लिए जो कार्यक्रम गतिमान है, उसके लाभार्थी समुदायों का अलग अलग सम्मलेन ब्लॉक स्तर पर आयोजित करने का मार्गदर्शन उन्होंने किया।
बता दें कि अगले महीने दिल्ली में नगर निगमों के चुनाव होने वाले हैं। इसमें भाजपा हैट्रिक बनाने की तैयारी कर रही है। सूत्रों के मुताबिक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली के सभी सांसदों से इस बावत भी बातचीत की। इसके अलावा नवम्बर में होने जा रहे हिमाचल प्रदेश के विधानसभा चुनाव की रणनीति पर भी हिमाचल के सांसदों से चर्चा किया। सूत्रों की माने तो मोदी सरकार दलितों के मसीहा माने जाते डा. भीम राव अंबेडकर को पूरी तरह से भाजपा से कनेक्ट करने की तैयारी कर रही है। पार्टी यह अंबेडकर के बहाने उनके अनुयायियों को भगवा रंग में रंगने के मूड में है। यही कारण है कि अगले महीने बाब की जयंती को बड़े स्तर पर मनाने की तैयारी चल रही है।